वाइब्रेंट गुजरात समिट में गौतम अडानी की बड़ी सौगात, 5 साल में ₹2 लाख करोड़ करेंगे निवेश, लाखों नौकरियां होंगी पैदा

Global Bharat 10 Jan 2024 3 Mins
वाइब्रेंट गुजरात समिट में गौतम अडानी की बड़ी सौगात, 5 साल में ₹2 लाख करोड़ करेंगे निवेश, लाखों नौकरियां होंगी पैदा

वाइब्रेंट गुजरात समिट में अडानी ग्रुप ने बड़ी घोषणा की है। गांधीनगर में हो रहे इस समिट में बोलते हुए उन्होंने कहा कि उनकी कंपनी साल 2025 तक गुजरात में 55,000 करोड़ रुपये निवेश करेगी.अडानी ग्रुप ने गुजरात में बड़े निवेश की घोषणा की है। ग्रुप साल 2025 तक गुजरात में 55,000 करोड़ रुपये निवेश करेगा।

वहीं, अगले 5 साल में 2 लाख करोड़ रुपये से अधिक निवेश करेगा। अडानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी ने बुधवार को गांधीनगर में हो रही वाइब्रेंट गुजरात समिट में यह घोषणा की। वाइब्रेंट गुजरात समिट में पीएम नरेंद्र मोदी और कई केंद्रीय मंत्रियों सहित दुनियाभर के बड़े कारोबारी शामिल हुए हैं। इतना बड़ा निवेश निश्चित रूप से गुजरात में नए रोजगार पैदा करेगा। अडानी ग्रुप के इस भारी भरकम निवेश से गुजरात में 1 लाख से अधिक जॉब्स पैदा होने का अनुमान है।

2047 तक बनेगा विकसित भारत

गौतम अडानी ने इस समिट में बोलते हुए कहा, 'मिस्टर प्राइम मिनिस्टर, आप केवल भारत के फ्यूचर के बारे में सोच ही नहीं रहे हैं, बल्कि इसे आकार भी दे रहे हैं। आपकी लीडरशिप में भारत 2047 तक पूरी तरह से विकसित देश बनने की दिशा में आगे बढ़ रहा है। आपने भारत को सफलतापूर्वक एक बड़ी शक्ति के रूप में दुनिया के नक्शे पर रखा है और इसे आत्मनिर्भर बना रहे हैं।

गौतम अडानी का पूरा संबोधन 

माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्रभाई मोदी, महामहिम शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान, साझेदार देशों के माननीय प्रमुखगण, माननीय मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्रभाई पटेल, सम्मानित मंत्रीगण, उद्योग जगत के दिग्गज और मेरे प्यारे दोस्तों, सुप्रभात। 10वें वाइब्रेंट गुजरात शिखर सम्मलेन को संबोधित करना सौभाग्य की बात है। मैं इन सभी शिखर सम्मेलनों का हिस्सा बनने पर बहुत गर्व महसूस करता हूं।माननीय प्रधानमंत्री जी, वाइब्रेंट गुजरात आपके असाधारण दृष्टिकोण की अद्भुत अभिव्यक्ति है। इसमें आपका विजन हैं, जिसमें भव्य महत्वाकांक्षा, विशाल पैमाना, सुशासन शामिल है।

भारत के जीडीपी में हुई शानदार बढ़ोत्तरी
इसने एक राष्ट्रव्यापी आंदोलन को जन्म दिया है क्योंकि हमारे सभी राज्य भारत के औद्योगिक परिदृश्य को मौलिक रूप से नया स्वरुप देने के लिए प्रतिस्पर्धा और सहयोग करते हुए आगे बढ़ रहे हैं।2014 से 2023 तक, भारत के जीडीपी में 185% और प्रति व्यक्ति आय में 165% की वृद्धि हुई है। यह उल्लेखनीय वृद्धि है, जिसे इस अवधि के दौरान भू-राजनीतिक और महामारी संबंधी चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए और भी महत्वपूर्ण माना जा सकता है।
माननीय प्रधानमंत्री जी, अंतरराष्ट्रीय मंच पर आपकी उपलब्धियाँ उतनी ही उल्लेखनीय हैं। आपने हमें वैश्विक मंचों पर आवाज़ ढूंढने वाले देश से आगे बढ़ाकर एक ऐसे राष्ट्र की ओर अग्रसर किया है जो अब स्वयं वैश्विक मंच तैयार करता है। आपके द्वारा संकल्पित 'सोलर अलायंस प्लेटफ़ॉर्म' और जी20 प्लेटफार्म पर आपके नेतृत्व ने वर्ल्ड क्लास सिस्टम का रास्ता दिखाया है। जी20 में ग्लोबल साउथ को शामिल करना आधुनिक इतिहास का एक निर्णायक क्षण है।

'पीएम मोदी सिर्फ भविष्यवाणी नहीं करते बल्कि उसे गढ़ते हैं'
माननीय प्रधानमंत्री जी, आप सिर्फ भविष्यवाणी नहीं करते बल्कि उसे गढ़ते हैं। आपने भारत को दुनिया का सबसे तेजी से विकासशील राष्ट्र बनाने की दिशा दी है और उसे 'वसुधैव कुटुम्बकम्' और 'विश्व गुरु' के दर्शन से प्रेरित ग्लोबल सोशल चैंपियन के रूप में स्थापित किया है और सबसे बेहतर तो अभी आना बाकी है।भारत को विकसित देश बनाने और 2047 तक भारत को पूरी तरह से विकसित राष्ट्र बनाने की आपकी दूरदृष्टि के साथ, आपने सुनिश्चित किया है कि आज का भारत, कल के वैश्विक भविष्य को आकार देने के लिए तैयार है।

कच्छ में बना रहे बड़ा ग्रीन एनर्जी पार्क
माननीय मुख्यमंत्री जी, पिछले शिखर सम्मेलन में मैंने 2025 तक 55,000 करोड़ रुपये से अधिक के निवेश की घोषणा की थी। हमने वादा किए गए विभिन्न क्षेत्रों में पहले ही 50,000 करोड़ रुपये से अधिक का आंकड़ा पार कर लिया है और 25,000 प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोजगारों के अपने लक्ष्य को भी पीछे छोड़ दिया है। माननीय मुख्यमंत्री जी, आज मैं और अधिक निवेश की प्रतिबद्धता जताता हूं। हम कच्छ के खावड़ा में दुनिया का सबसे बड़ा ग्रीन एनर्जी पार्क बना रहे हैं, जो 725 वर्ग किलोमीटर में 30 गीगावाट रिन्यूएबल एनर्जी का उत्पादन करेगा, जिसे अंतरिक्ष से भी देखा जा सकेगा। हम "आत्मनिर्भर भारत" के लिए ग्रीन सप्लाई चेन का विस्तार कर रहे हैं और सबसे बड़ा इंटीग्रेटेड रिन्यूएबल एनर्जी इकोसिस्टम बना रहे हैं। इसमें सोलर पैनल्स, विंड टर्बाइन्स, हाइड्रोजन इलेक्ट्रोलाइज़र, ग्रीन अमोनिया, पीवीसी, कॉपर और सीमेंट उत्पादन में विस्तार शामिल हैं।अगले पांच सालों में, अदाणी ग्रुप गुजरात में दो लाख करोड़ रुपये से अधिक का निवेश करेगा यानी 25 बिलियन यूएस डॉलर, जिससे 100,000 से अधिक प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोजगार सृजित होंगे।
आपके समर्थन के लिए मैं आभारी हूं। यह मेरा संकल्प है कि मैं विकसित गुजरात के निर्माण में अपना योगदान दूंगा।

About Author

Global Bharat

Global's commitment to journalistic integrity, thorough research, and clear communication make him a valuable contributor to the field of environmental journalism. Through his work, he strives to educate and inspire readers to take action and work towards a sustainable future.

Recent News