नीतीश कुमार को मिला PM पद का ऑफर, JDU नेता के इस दावे से मचा हड़कंप

Global Bharat 08 Jun 2024 2 Mins 511 Views
नीतीश कुमार को मिला PM पद का ऑफर, JDU नेता के इस दावे से मचा हड़कंप

देश में लोकसभा चुनाव संपन्न होने के बाद नतीजों में भारतीय जनता पार्टी को 240 सीटें मिली है. वहीं एनडीए को 292 सीटों पर सफलता हाथ लगी है. जिसके बाद फिलहाल एनडीए की ही सरकार बनती हुई दिख रही है. इसे लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संसदीय दल का नेता भी चुन लिया गया है और अब नरेंद्र मोदी तीसरी बार प्रधानमंत्री बनेंगे ऐसा साफ हो गया है.

इसी बीच जदयू के एक बड़े नेता के बयान से देशभर में हड़कंप मच गया है. दरअसल JDU के वरिष्ठ नेता केसी त्यागी ने एक बयान देकर सबको चौंका दिया है. उन्होंने दावा किया है कि इंडिया गठबंधन की तरफ से बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को प्रधानमंत्री पद का ऑफर किया गया है. बता दें कि केसी त्यागी का यह बयान उस समय आया है, जब एनडीए में जदयू की तरफ से मोल-भाव की जानकारी मिल रही है.

बता दें कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) देश में अगली सरकार बनाने की तैयारियां कर रहा है. इस बीच जेडीयू के वरिष्‍ठ नेता केसी त्‍यागी ये कहकर चौंका दिया है कि इंडिया गठबंधन की ओर से बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को 'प्रधानमंत्री' पद ऑफर किया गया है. हालांकि उन्होंने स्पष्ट किया है कि जदयू ने इंडिया गठबंधन के ऑफर को ठुकरा दिया है.

जदयू नेता का कहना है कि नीतीश कुमार को पीएम पद का ऑफर था, लेकिन वो अब हम लोग एनडीए के साथ हैं. एक टीवी चैनल से बात करते हुए केसी त्यागी ने कहा है कि इंडिया ब्लॉक नीतीश कुमार को पीएम पद का ऑफर दे रहा था. लेकिन नीतीश कुमार और हमारी पार्टी ने उस ऑफर को खारिज कर दिया है और हमलोग मजबूती के साथ पीएम मोदी के साथ हैं.

उन्होंने आगे कहा कि समय का चक्र देखिए, जो लोग नीतीश कुमार को संयोजक के योग्य नहीं मानते थे, वे लोग अब प्रधानमंत्री पद का ऑफर दे रहे हैं. लेकिन मैं यहां स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि हम लोग मजबूती के साथ एनडीए के पक्ष में हैं और एनडीए के साथ खड़े हैं. उन्होंने कहा है कि बिहार के सीएम ने स्पष्ट कर दिया है कि हम किसके साथ हैं और ये बात इंडिया गठबंधन को भी समझ में आ जानी चाहिए.

केसी त्यागी ने बिहार के विशेष राज्य के दर्जे पर कहा है कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग हमारी ओर से की जा रही है. ये मांग हम शुरुआत से कर रहे हैं और आज भी हम उसपर कायम हैं और आगे भी कायम रहेंगे. साथ ही उन्होंने जदयू के केंद्र में मंत्रालय मिलने पर भी अपनी बात रखी और कहा कि कौन सा मंत्रालय मिलेगा और कौन सा नहीं ये पीएम का विशेषाधिकार है.

Recent News