चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी केस में नया ट्विस्ट,आर्मी जवान की हुई एंट्री! आर्मी जवान के इशारे पर बने वीडियो?

Global Bharat 24 Sep 2022 3 Mins 44 Views
चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी केस में नया ट्विस्ट,आर्मी जवान की हुई एंट्री! आर्मी जवान के इशारे पर बने वीडियो?

सेना के जवान ने बनवाए थे 60 लड़कियों के वीडियो, चंडीगढ़ केस में हुआ बड़ा खुलासा
सेना का एक जवान ही 60-60 लड़कियों को ब्लैकमेल कर रहा था, वो एक लड़की को मैसेज करता, तुमने अगर और नए वीडियोज नहीं भेजे तो मैं तुम्हारी लाइफ बर्बाद कर दूंगा, उसके बाद उस लड़की के पास दो और लड़कों का फोन आता फिर वो बाथरूम के बाहर नए शिकार की तलाश में मोबाइल लेकर बैठ जाती, चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी केस में अब तक की जांच यहीं तक पहुंची है. वो सेना का जवान कौन है, कहां पोस्टेड है, आरोपी लड़की से उसका क्या नाता है, हम आपको एक-एक कर सब बताते हैं लेकिन उससे पहले सुनिए उन दो लड़कों और उस लड़की ने पूछताछ में क्या-क्या राज उगले हैं.
इस केस की जांच के लिए बनी एसआईटी ने 3 घंटे तक बंद कमरे में लड़की से पूछताछ की, पूछताछ के दौरान उसने ज्यादा कुछ नहीं बताया, लेकिन जैसे ही उस लड़की को उसके एक्स ब्वॉयफ्रेंड सन्नी मेहता के सामने ले गई, ये भी राज खुल गया कि वो दोनों चार साल से रिलेशन में थे, लड़के ने ही उसकी बात आरोपी रंकज से करवाई थी, और रंकज का कनेक्शन किसी इंटरनेशनल गैंग से था, लेकिन रंकज के अलावा एक और आरोपी इस पूरे खेल में शामिल था, जो इन सबको आदेश देता था, जब एसआईटी ने कड़ाई से पूछताछ की तो पता चला कि आरोपी लड़की के मोबाइल में मोहित नाम के लड़के का नंबर दिखा, इस नंबर पर उसकी बराबर बातचीत होती थी, जब लड़की ने वीडियो भेजा तो उस वक्त उसका ब्वॉयफ्रेंड रंकज और मोहित से बात कर रहा था. ये वही मोहित है जिसे लेकर दो तरह के दावे किए जा रहे हैं, पहला कि वो यूनिवर्सिटी की मेस में काम करता था और दूसरा वो मोहित नहीं बल्कि संजीव है, जो आर्मी का जवान है, लड़की ने जानबूझकर उसका नंबर गलत नाम से सेव कर रखा था, ताकि वो पकड़ा न जाए. अब तक मीडिया में जो जानकारी सामने आई है उसके मुताबिक
आर्मी जवान संजीव कुमार जम्मू-कश्मीर का रहने वाला है और फिलहाल उसकी पोस्टिंग अरुणाचल प्रदेश में है, वो वहीं से बैठकर पूरा कांड करवा रहा था, पुलिस ने इस मामले की सूचना आर्मी हेडक्वार्टर को दे दी है, अब उसकी गिरफ्तारी के बाद ही पूरे मामले का खुलासा हो पाएगा.

पाकिस्तान के जाल में फंसा या विदेशी आकाओं का शिकंजा कसा,अब आर्मी करेगी जांच
लेकिन ये दावा किया जा रहा है कि उस आर्मी जवान के तार विदेश से भी जुड़े हो सकते हैं. विदेशों में अक्सर ऐसी वीडियो क्लीप महंगे दामों पर बेची जाती है, अब तक आपने यही सुना होगा कि सेना का जवान खुफिया जानकारियां भेजने के आरोप में पकड़ा गया, वो हनीट्रैप की जाल में फंसकर सूचनाएं लीक कर रहा था लेकिन ये जवान तो अपने ही देश की बेटियों को अपना निशाना बना रहा था, राजा-महाराज के वक्त दुश्मन देश की खुफिया सूचनाएं निकालने के लिए महिलाओं का सहारा लिया था, अभी भी पाकिस्तान में बकायदा महंगे मोबाइल, मेकअप किट और कमरे महिला जासूसों को दिए गए हैं, ताकि वो हिंदुस्तानी जवानों को अपने जाल में फंसाकर खुफिया जानकारियां निकाल सकें

एक लड़की और तीन लड़के ने रची थी पूरी कहानी,इंटरनेशनल गैंग ने करवाया पूरा कांड
कुछ दिनों पहले ही उत्तराखंड के प्रदीप नाम के जवान को जब जोधपुर से पकड़ा गया तो कई हैरान कर देने वाले खुलासे हुए. पाकिस्तानी लड़की से उसकी दोस्ती एक कॉल से हुई थी, उसके बाद वो वीडियो कॉल भी करती थी, घंटों तक दोनों बात किया करते थे, उसने दिल्ली आकर मिलने का वादा भी किया था, लेकिन उससे पहले कुछ खुफिया फाइलें चाहती थीं, वो महिला जासूस प्रिया शर्मा, पायल शर्मा, हरलीन कौर और पूजा राजपूत जैसे नामों से जवानों को फंसाती थी, जब कोई हिंदू जवान होता तो उसे रूम में रखे मूर्तियों की तस्वीर दिखाती, उसे वहां हिंदुओं को हो रही दिक्कतों के बारे में बताती और इंडिया आकर शादी करने के सपने दिखाती ताकि उस पर आसानी से लोग भरोसे कर लें. लेकिन ये तकनीक दुश्मन देश के लिए काम आती है, अपनी ही देश की बेटियों को सेना का ये जवान क्यों ब्लैकमेल कर रहा था इसका जवाब अब तक पुलिस भी नहीं तलाश पाई है.

https://youtu.be/oj0lceHErj8

Recent News