इधर पांड्या ने की सियासत,उधर रोहित ने तैयार किया वनडे का भावी कप्तान,वनडे से बाहर होंगे पांड्या!

Global Bharat 16 Jan 2023 3 Mins
इधर पांड्या ने की सियासत,उधर रोहित ने तैयार किया वनडे का भावी कप्तान,वनडे से बाहर होंगे पांड्या!

कभी विराट कोहली ने मैदान पर हार्दिक पांड्या को खेलना सिखाया, रोहित, धोनी, विराट ने मिलकर हार्दिक पांड्या को कप्तानी तक पहुंचाया, पर किसको पता था, कप्तान बनते ही हार्दिक पांड्या विराट कोहली की घोर बेइज्जती कर डाली. भारतीय क्रिकेट में कप्तानी का घमण्ड हमेशा से बोलता रहा है. कभी राहुल द्रविड़ ने सचिन से बदला चुकाने के लिए उन्हें दोहरा शतक बनाने से रोका तो कभी सौरभ गांगुली का गुस्सा दिखा, फिर दौर आया धोनी का, जहां सहवाग जैसे योग्य खिलाड़ियों से उनकी ठन गई, उसके बाद दौर आया सुरेश रैना का तो जडेजा और रैना की मैदान पर ही लड़ाई हो गई. क्या इसी तरह से जूनियर हार्दिक पांड्या कप्तानी के घमण्ड में महान और इस युग के बॉस विराट कोहली की घोर बेइज्जती कर रहे है जिसका जवाब कोहली ने बल्ले से दिया? पूरी सच्चाई जानने के लिए पहले 60 सेकंड में भूमिका को समझना होगा. T-20 का कप्तान पांड्या को बनाया गया, BCCI कप्तान की बात मानकर ही टीम चुनती है, एशिया कप और विश्वकप में विराट ने सबसे अच्छी बल्लेबाज़ी की पर उन्हें टीम में नहीं रखा गया, ये कोई छोटी ख़बर नहीं है, ये ठीक वैसे ही जैसे कोई अपने महानतम दौर में हो और आप उसे बाहर कर दीजिए. इस बात को लेकर पांड्या और विराट में अंदर ही अंदर अनबन की ख़बरें थी पर पहले वनडे की दो घटनाओं ने सबको बता दिया टीम इंडिया में जूनियर हार्दिक पांड्या महान विराट की बेइज्जती कर रहे है! फिर आपको बताते हैं अब पांड्या के भविष्य पर भी सियासत की भंवर क्यों मंडरा रही है?

ये पहले वनडे की पहली तस्वीर है, विराट कोहली ने गेंद को खेला, पहला रन तेज़ी से पूरा कर दूसरे के लिए दौड़ गए पर पांड्या ने विराट को देखा तक नहीं, इस बात पर विराट गुस्से से लाल हो गए, हाथ उठाकर पूछा ये क्या था? जबकि वहां दो रन बनता था. पहले ही मैच में दूसरा मौका तब आया जब हार्दिक पांड्या को विकेट मिला, दौड़कर सभी खिलाड़ी आते हैं, हाथ मिलाते हैं, लेकिन जब विराट कोहली से हाथ मिलाने जाते हैं तो पांड्या इग्नोर कर देते हैं, यहां तक कि पांड्या के कोहनी से कोहली की टोपी पर धक्का भी लगता है लेकिन पांड्या कोहली की तरफ नहीं देखते हैं, ये घटना घटी जिसका रिएक्शन हुआ, विराट कोहली ने हाथ उठाकर पांड्या की तरफ कोई इशारा किया, यानि जो बात आप को महसूस हो रही है वो विराट को भी हुई, लेकिन असली कहानी अब शुरू होगी.

तीसरे वनडे में रोहित ने पांड्या को मौका देखकर बाहर कर दिया, वो मैच भारत जीता भी. सूर्या को पांड्या की जगह खिलाया तो किसी ने कोई सवाल भी नहीं पूछा. यानि T-20 में पांड्या ने रोहित-विराट से पंगा लिया तो उन्हें भी वनडे में इसकी कुर्बानी चुकानी पड़ सकती है, फिलहाल रोहित श्रेयस अय्यर को भावी कप्तान बनाने की तैयारी कर रहे हैं. वनडे वर्ल्ड के बाद भारत के चार नाम होंगे जिनमें से कोई एक कप्तान बन सकता है, शुभमन गिल, सूर्य कुमार यादव, KL राहुल और श्रेयस अय्यर, जो टीम श्रीलंका के ख़िलाफ़ आख़िरी वनडे में खेली वो टीम अगर आगे भी खेलती रही तो आप हैरान मत होना, मैन ऑफ द मैच के बाद विराट ने इशारे में ही पांड्या को बता दिया कि वो विराट के सामने बच्चे हैं. विराट से पूछा गया कितने मैन ऑफ द मैच जीत चुके हैं याद हैं क्या? विराट ने मुस्कुरा कर जवाब दिया याद नहीं है, न जाने कितने मिले हैं? विराट कोहली की कप्तानी में ही पांड्या ने नाम कमाया, विराट ने न सिर्फ मौका दिया बल्कि जब उनकी गेंदबाज़ी पर सवाल उठाया गया तो विराट ने ही बचाया था. पर ये वक्त बहुत बलवान होता है, कप्तानी मिलते ही टीम के सीनियर खिलाड़ियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया जाता है. विराट का शतक, और शतक के बाद तूफानी अंदाज में खेलना एक पारी में 8 छक्का लगाना बताता है दर्द सीने में छिपा है.विराट ने छक्के की बारिश कर बताया कि T-20 में उनको बाहर कर ठीक नहीं किया गया है. हार्दिक पांड्या ने कुछ दिन पहले संजू सैमसन के न खिलाने पर भी एक विवाद बयान दिया था, उस वक्त वो कप्तान बने ही थे, उसी दौरान कह दिया मेरे रूम का दरवाजा हर खिलाड़ी के लिए खुला है कोई भी आकर बात कर सकता है, ये मेरी टीम है मैं तय करूंगा कौन खेलेगा कौन नहीं. इस बयान में घमण्ड साफ झलता है. संजू सैमसन अभी उतने महान नहीं हैं तो बात ने तूल नहीं पकड़ा पर विराट कोहली महान हैं, इसलिए अपमान पर दर्शकों ने पांड्या ही हेकड़ी निकाल दी. कोई भी जूनियर खिलाड़ी कभी इतना बड़ा नहीं हो सकता है कि वो जिनसे सिखता है उन्हें ही पैरों में रौंदने लगे..?

https://youtu.be/jyEPeuSj6AI

About Author

Global Bharat

Global's commitment to journalistic integrity, thorough research, and clear communication make him a valuable contributor to the field of environmental journalism. Through his work, he strives to educate and inspire readers to take action and work towards a sustainable future.

Recent News