मरीज को प्लेटलेट्स की जगह चढ़ाई मौसंबी का जूस तो योगी का फरमान ध्वस्त कर दो अस्पताल

Global Bharat 27 Oct 2022 2 Mins 47 Views
मरीज को प्लेटलेट्स की जगह चढ़ाई मौसंबी का जूस तो योगी का फरमान ध्वस्त कर दो अस्पताल


लापरवाही किसे कहते हैं? डेंगू के मरीज को प्लेटलेट्स चढ़ाने की बजाय मौंसबी का जूस चढ़ा कर हज़ारों ऐंठ लेना? कलियुग में ऐसा घोर अन्याय भी होगा ये शायद खुद भगवान को पता नहीं होगा. प्रयागराज अस्पताल में एक डेंगू के मरीज से अस्पताल वाले कहते हैं प्लेटलेट्स नहीं चढ़ाया तो मौत पक्की है! परिवार वाले डर जाते हैं, कहते हैं हम पैसा लाते हैं आप करिए तैयारी, उधर परिवार पैसा लेकर आता उससे पहले GLOBAL अस्पताल ने मौंसंबी का जूस चढ़ाकर बिल फाड़ दिया..हालांकि जब कलियुग में ऐसे राक्षसों का जन्म होगा तो योगी की तरह CM भी आएंगे जो ऐसी राक्षसों की लंका को बुलडोजर से गिरा देंगे. 8 बोतल प्लेटलेट्स की जगह पांच बोतल जूस चढ़ाने वालों का क्या हाल होगा वो ये आदेश में साफ-साफ लिखा है.


योगी आदित्यनाथ ने एक्शन लेते ही अस्पताल पर बुलडोजर चलाने का आदेश दिया है. 17 अक्टूबर को अस्पताल में मरीज भर्ती हुआ, तभी उसे जूस चढ़ाया गया. ठीक दो दिन बाद उसकी मौत हो गई, यानि जूस चढ़ाने के बाद तुरंत बाद मौत नहीं हुई, मतलब ऐसा काम पहले भी मरीजों के साथ हुआ होगा. GLOBAL अस्पताल में तीन बोतल प्लेटलेट्स मिला, बाकी का पांच बोतल परिवार किसी एजेंट से लेकर आया, वो एजेंट अस्पताल का ख़ास निकला, और अब योगी उस एजेंट के साथ अस्पताल की छाती पर बुलडोजर चलाने जा रहे हैं! ये फैसला कैसा है आप खुद बता दीजिए..28 अक्टूबर तक खुद से अस्पताल मालिक ने ध्वस्त नहीं किया तो बाबा का बुलडोजर आएगा और फिर क्या होगा सबको पता है.

योगी के बुलडोजर से न्याय मिलता है इसलिए सुप्रीम कोर्ट भी कह चुका है हम पूरे देश का बुलडोजर नहीं रोक सकते हैं, जज भी जानते हैं, अदालत में न्याय मिलते-मिलते आदमी दम तोड़ देता है, इसलिए योगी का न्याय करने का तरीका सबसे अच्छा है. आप गलती करेंगे तो कोई आपका साथ नहीं देगा, आप माफिया हैं या जनता की जान लेने वाले डॉक्टर सब एक सामान हैं, आदेश की कॉपी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है, योगी की तारीफ की जा रही है, क्योंकि जैसे ही ये ख़बर आई वैसे ही अस्पताल पर ताला लगा दिया गया, CMO ने तीन सदस्यीय कमेटी से जांच करवा लाइसेंस रद्द कर डाला था, सवाल उठता है किसी और की सरकार होती वो कुछ ले देकर ताला खुलवा लेता और फिर मौत का बजार लगा देता, लेकिन योगी आदित्यनाथ ने ऐसा नहीं किया, जड़ से ही साफ कर डाला. जिसके लिए खुलकर GLOBAL भारत योगी के इस फैसले की तारीफ कर रहा है क्या आप भी करेंगे ?


हालांकि DM संजय कुमार खत्री का दावा था कि प्लेटलेट्स ही थे पर वो खराब हो गए थे, फिर भी सवाल उठता है कि जब इतना बड़ा अस्पताल है तो परिजन एजेंट से प्लेटलेट्स क्यों खरीद रहे थे ? क्या डॉक्टरों ने उसको देखा नहीं था वो जूस है या फिर खराब हो चुका प्लेटलेट्स है. प्रयागराज के धूमलगंज में चल रहे इस अस्पताल से कई परिवार दुखी थे, बाबा के बुलडोजर ने सबको एक साथ न्याय दे दिया है, डॉक्टर भगवान माने जाते हैं, हम नहीं कहते है कि आप उनपर भरोसा न करें, लेकिन आपको भी ऐसे फ्रॉड अस्पताल से बचना चाहिए. जो लूट के लिए खुले हैं. UP में ऐसे कई अस्पताल हैं जहां ये सब चलता है, योगी कहां-कहां तक पहुंचेंगे, कितने राक्षसों का अंत करेंगे, क्योंकि एक मरते हैं तो चार का जन्म होता है, और जनता को अपना निवाला बनाते हैं, क्या आपके पास किसी अस्पताल की ऐसी ही कोई अजीबों-गरीब कहानी है? क्या आपके साथ कभी ऐसा हुआ, अगर हां तो क्या हुआ कमेंट में बताएं..हो सकता है हम आपकी आवाज़ उठाएं.

https://fb.watch/gqbQPPqT8v/

Recent News