24 घंटे में ऐसा क्या हुआ ज्योतिरादित्य सिंधिया को मोदी के सामने देना पड़ा सच्चे भाजपाई होने का सबूत!

Global Bharat 11 Aug 2023 2 Mins 90 Views
24 घंटे में ऐसा क्या हुआ ज्योतिरादित्य सिंधिया को मोदी के सामने देना पड़ा सच्चे भाजपाई होने का सबूत!

24 घंटे में ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ ऐसा क्या हुआ कि उन्हें सदन में मोदी के सामने सच्चे भाजपाई होने का सबूत देना पड़ गया. ये बताना पड़ गया कि मैं कांग्रेस ही नहीं बल्कि गांधी खानदान को भी आड़े हाथों ले सकता हूं, कुछ लोगों का दावा है कि 9 अगस्त को सिंधिया ने सदन में कुछ ऐसा किया जिससे अमित शाह भी नाराज हो गए. और उसके बाद जब अगले दिन सदन में पीएम मोदी आए तो सिंधिया ने उनके सामने ही कांग्रेस की बखिया उधेड़ दी, राहुल, सोनिया सब पर तंज कसा. पहले उनका बयान सुन लीजिए फिर बताते हैं सिंधिया ने सदन में आखिर ऐसा किया क्या.

ज्योतिरादित्य सिंधिया

ये तस्वीर 9 अगस्त की है, अमित शाह सदन में खड़े होकर कांग्रेस के घोटाले गिनवा रहे थे, एनडीए का हर सांसद उनकी हां में हां मिला रहा था, पर सिंधिया चुपचाप बैठे थे.

अमित शाह

जब सदन खत्म हुआ तो कई लोगों ने दावा किया कि कई बीजेपी सांसदों ने इनसे पूछा भी. हालांकि सोशल मीडिया पर लोग ये कहते रहे कि सिंधिया उन दिनों कांग्रेस में ही थे, इसीलिए हां में हां नहीं मिला रहे हैं, गांधी परिवार से उनकी नजदीकियां काफी रही हैं, राहुल के करीबी रहे हैं, इसीलिए कुछ नहीं कह रहे हैं, पर अगले दिन जब सिंधिया ने बोलना शुरू किया और कांग्रेस के कारनामे गिनवाने शुरू किए तो पीएम मोदी और अमित शाह सब गदगद हो गए, लेकिन दिल्ली से हजार किलोमीटर दूर भोपाल में बैठे मामा शिवराज सिंह चौहान ये तस्वीर देखकर काफी दुखी हुए होंगे. दरअसल सिंधिया ने जिस तरह से पीएम मोदी के बोलने से पहले मोर्चा संभाला, उनसे अपनी नजदीकियां दिखाई वो साफ दिखाता है सिंधिया, मामा को बड़ा मैसेज देना चाहते हैं. सिंधिया ने विपक्ष की ओर से पीएम मोदी पर लगाए गए आरोपों पर बोलते हुए कहा

पीएम मोदी

प्रजातंत्र के मंदिर में हम जो यह तस्वीर देख रहे हैं, जिस प्रजातंत्र के मंदिर में इस देश की संस्कृति, इस देश का सद्भाव, इस देश की विचारधारा निर्मित की जाती है। जिस प्रजातंत्र के मंदिर से देश की 140 करोड़ जनता अपनी प्रेरणा लेती है, उस प्रजातंत्र के मंदिर में यह साफ हो गया है कि इन लोगों को ना देश की चिंता है, ना प्रधानमंत्री के पद की चिंता है, ना राष्ट्रपति के पद की चिंता है, इनको तो केवल अपनी हैसियत की चिंता है। यह बात पूरे देश को पूर्ण रूप से स्पष्ट हो गया है। मुझे इस संसद में 20 साल हो गए हैं। मैंने दो दशक में ऐसी तस्वीर नहीं देखी। जिस तरीके से इस देश के सर्वोच्च पद के व्यक्ति, 140 करोड़ जनता के हृदय में स्थापित इस देश के प्रधानमंत्री के प्रति जो शब्दों का प्रयोग विपक्ष की ओर से किया गया मैं मानता हूं कि इस सदन के सामने नहीं, लेकिन देश की जनता के सामने इन्हें माफी मांगनी चाहिए.,

सिंधिया और प्रियंका गांधी

सिंधिया ने ये तेवर तब दिखाए जब कुछ दिन पहले प्रियंका गांधी ने कहा कि मैं उन पर कुछ नहीं बोलूंगी, कई लोगों ने कहा कि कांग्रेस सिंधिया जैसे नेता के लिए पार्टी के दरवाजे खुले रखना चाहती है. यहां तक कि राहुल भी सिंधिया पर कभी कुछ खास नहीं बोलते, इसीलिए जब सिंधिया ने बोला तो ये साफ हो गया कि सिंधिया सच्चे भाजपाई हैं, जो लोग उनकी तस्वीर वायरल कर ये कह रहे थे कि पुराने दोस्तों के प्रति ईमानदारी दिखा रहे हैं, वो अब इस बयान पर क्या कहेंगे,
ब्यूरो रिपोर्ट ग्लोबल भारत टीवी

https://youtu.be/JvRbNF1GFSU

Recent News