योगी सरकार में होने वाला था ऐसा कांड, जिसके बाद भूचाल आना तय था, मुख्तार के बटे का जेल में बड़ा खेल!

Global Bharat 12 Feb 2023 3 Mins
योगी सरकार में होने वाला था ऐसा कांड, जिसके बाद भूचाल आना तय था, मुख्तार के बटे का जेल में बड़ा खेल!

हाय रे वक्त, जिस माफिया को देख लोग भागते हैं आज बेचारा खुद जेल से भागने के लिए सुराग की तलाश में था…योगी की सरकार में एक ऐसा कांड होने वाला था जिसके बाद UP में भूचाल आ जाता….भगाने वाले ही योगी से सवाल पूछते पर प्लानिंग में एक कमी रह गई…मुख्तार का बेटा जेल से नहीं देश छोड़कर भागने वाला था…दबंग लेडी IPS ने ऐसा दिमाग लगाया कि पूरी प्लानिंग फेल हो गई…जेल में ऐसा क्या हो रहा था कि SP वृंदा शुक्ला के भी होश उड़ गए…परत-दर परत सुनिए कैसे साज़िश रची गई..फिर आपको एसपी का एक्शन दिखाते हैं.

मुख्तार का बेटा चित्रकूट की जेल में कई महीने से बंद है, यहां तक कि योगी सरकार का एक अफसर भी पूरे खेल में शामिल था, जेलर से लेकर डिप्टी जेलर तक मिले थे, जेल के कई पुलिसवाले मुख्तार के बेटे को भगाना चाहते थे, पर एक ईमानदार पुलिसकर्मी ने सबकी पोल खोल दी…चर्चा यहां तक कि है कि जेल में मुख्तार के बेटे से कुछ विदेशी लोग भी मिले थे, विदेश मुद्रा भी मिली है, वो दुबई या फिर किसी और देश की शरण में जाने की प्लानिंग कर रहा था…अब्बास खुद जेल का बॉस बन गया था, वो बैरक में नहीं बल्कि जेलर के कमरे में सोता, उसकी पत्नी भी आती और वही रहती, ये ख़बर योगी राज में पेट्रोल में बारूद डालने जैसी है…एक ईमानदार पुलिसकर्मी ने एसपी वृंदा शुक्ला तक ये बात पहुंचाई की जेल में क्या खेल चल रहा है, प्लानिंग तैयार हुई, एसपी वृंदा शुक्ला ने डीएम अभिषेक आनंद के साथ मिलकर जेल में छापा मार दिया…उसके बाद जो हुआ वो और दिलचस्प है…जेल में अफरा-तफरी मच गई…मुख्तार जेलर के कमरे से बैरक की तरफ भागा लेकिन छापे में IPS वृंदा शुक्ला सीधे जेलर के कमरे में पहुंच गई, वहां जो खेल चल रहा था वो खुद दंबंग IPS लेडी से सुनिए...

IPS और चित्रकूट की एसपी वृंदा शुक्ला के मुताबिक जब मैं वहां पहुंची तो मैंने हर जगह तलाशी ली, मुझे ऐसी सूचना मिली थी कि बिना परमिशन लिए कुछ लोग बैरक में मिलने जाते है, मैंने छापा मारा तो देखा अब्बास अंसारी अपने बैरक में नहीं थे.जब मैंने पूछताछ की तो पता चला कि उन्हें प्राइवेट में मुलाकात करने की अनुमति दी गई है, और जो कार्यालय है कारागार उसी में उनकी पत्नी से मुलाकात करवाई जाती है. जिसकी जानकारी मुलाकात रजिस्टर में नहीं किया जाता है..जब उस कमरे में जाकर मैंने खुद देखा तो अब्बास अंसारी की पत्नी कमरे में मौजूद थी, उनके पास से मोबाइल फोन भी मिला, जो कारागार नियम के ख़िलाफ़ है…दो मोबाइल फोन, सोने की ज्वैलरी और कुछ कैश मिला है, विदेशी मुद्रा भी मिला है,

अब योगी ने कैसे एक्शन लिया ये सुनिए…आपका दिल खुश हो जाएगा…10 फरवरी की दोपहर जेल में छापा मारा गया, छापे के बाद ये बात बाबा तक पहुंची, योगी आदित्यनाथ तमतमा गए, तुंरत अधिकारियों को फोन लगाया, और ऐसी प्लानिंग बनाई की अब बाथरूम जाने से पहले अब्बास अंसारी को जेलर से परमिशन लेनी होगी…यूपी पुलिस के दबंग जेलर राजीव कुमार सिंह को चित्रकूट का नया जेलर बनाया गया है, लखनऊ के डिप्टी जेलर को देव दर्शन सिंह को भी भेजा है, सीधा आदेश है कि अब अब्बास कोई कहानी रचे तो ठीक करना है, मुख्तार के बेटे को दामाद की तरह सेवा करने वाले चित्रकूट जेल के जेलर संतोष कुमार, डिप्टी जेलर पियूष पाण्डे के अलावा 8 पुलिसकर्मियों को तत्काल सस्पेंड कर दिया गया…साथ ही चित्रकूट जेल से अब्बास को हटाने के बजाय योगी सरकार ने जेल को ही किला बना डाला है, मुख्तार के बेटे की ज़िंदगी जेल में बीतने वाली है, क्योंकि विदेशी मुद्रा के साथ रंगे हाथ जो पकड़ा जाता है वो जल्दी बाहर नहीं आता है..पिता पहले से ही जेल में था, बेटा भी जेल में था, ज्यादा प्यार और पति से जेलर के कमरे में इश्क लड़ाने के चक्कर वो भी गिरफ्तार हो गई, अब बाहर कौन, विदेश कौन भागेगा या यूपी में किसका एनकाउंटर हो जाएगा, ये बाबा की महिमा भगवान ही जानें….

https://youtu.be/7NXiZg5g29k

About Author

Global Bharat

Global's commitment to journalistic integrity, thorough research, and clear communication make him a valuable contributor to the field of environmental journalism. Through his work, he strives to educate and inspire readers to take action and work towards a sustainable future.

Recent News