क्या एनकाउंटर और बुलडोजर की आड़ में पुलिस हो गई सुस्त? बाबा के पास पहुंची नाकामी की ये घटनाएं तो पता नहीं कितने नपेंगे?

Global Bharat 06 Mar 2023 3 Mins
क्या एनकाउंटर और बुलडोजर की आड़ में पुलिस हो गई सुस्त? बाबा के पास पहुंची नाकामी की ये घटनाएं तो पता नहीं कितने नपेंगे?

तारीख थी 2 मार्च 2023, जगह- कौशांबी कोर्ट, और सीन- अजय देवगन की अपहरण मूवी का, पुलिस को सूचना मिली कि करारी के बलराम सिंह हत्याकांड का आरोपी सोनू कोर्ट में सरेंडर के लिए आने वाला है, पुलिस जाल बिछाए कोर्ट परिसर में ही उसका इंतजार कर रही थी, जबकि आरोपी का वकील बड़े ही चालाक ढंग से उसे सीधा सीजेएम कोर्ट में पेश करने वाला था, वकीलों की झुंड में काला कोट पहने वो आरोपी चल रहा था, तभी अजय देवगन की तरह एक पुलिसवाले की नजर उस तक पहुंची और उसके बाद तो पुलिस और वकीलों की ऐसी लड़ाई हुई जैसी अपहरण मूवी में भी नहीं हुई थी, और वकीलों ने ये तक कह दिया कि दारोगाजी दोबारा ऐसी कोशिश भूलकर भी मत करना, पर कहते हैं कुछ लोग अपने आदत से मजबूर होते हैं और ऐसे पुलिसवाले ही यूपी पुलिस की छवि खराब करवा रहे हैं, उत्तर प्रदेश के डीजीपी डीएस चौहान कहते हैं कोई भी व्यक्ति कानून हाथ में नहीं लेगा, कोई भी खाकीवाला बेवजह लोगों को तंग नहीं करेगा,और हर माफिया का इलाज होगा. पर उनका ये आदेश एक दारोगा के सामने सिर्फ कोरा वादा दिखता है, क्योंकि हम जो वीडियो आपको दिखाने जा रहे हैं उसे देखकर आपका भी पारा हाई हो सकता है. ये हैं अमेठी जिले के फुरसतगंज थाना क्षेत्र के दारोगा साहब, जिनकी लैंग्वेज इतनी गजब है कि कहिए मत.

मतलब दारोगाजी खुद लोगों को कह रहे हैं कानून हाथ में लो, मारपीट हो तो पुलिस को मत बुलाओ, खुद ही सुलझा लो, अब अगर सब खुद ही सुलझाने लगें तो फिर पुलिस क्या करेगी, क्या पुलिस का काम बाबा के राज में सिर्फ बुलडोजर चलाना रह गया है, क्योंकि बीते कुछ दिनों में यूपी में कई ऐसे कांड हुए, जिनमें से कई में बुलडोजर जमकर गरजा पर पुलिस के हाथ अपराधियों के गिरेहबान तक नहीं पहुंच पाए, पहले वो घटनाएं देखिए, फिर ये समझने की कोशिश करते हैं कि आखिर ऐसा हो क्यों रहा है.
19 फरवरी को DGP के नंबर से किसी जालसाज ने कानपुर के बाबूपुरवा थाने के दारोगा को फोन कर धमकाया
24 फरवरी को डीजीपी के नंबर से ही जालसाज ने एक दारोगा को फोन किया,कहा- कैदी को छोड़ दो,वो छूट गया
24 फरवरी 2023 को प्रयागराज में उमेश पाल की हत्या हुई, पर 8 दिन बाद भी पुलिस 6 आरोपियों को नहीं पकड़ पाई
27 फरवरी 2023 को पीलीभीत कोर्ट में लाया गया गैंगस्टर एक्ट का आरोपी कोर्ट से ही चकमा देकर फरार हो गया
28 फरवरी 2023 को मथुरा से एक ट्रैफिक पुलिसकर्मी को पीटने का वीडियो आया,जिसके बाद कई सवाल खड़े हुए
2 मार्च 2023 को हाथरस में समोसा खरीदने गए युवक को बदमाशों ने निशाना बनाया, उसे मारकर फरार हो गए
हालांकि ये तो आपराधिक घटनाएं थी, पर अब वो सुनिए जो आपने पहले कभी नहीं सुना, अगर आप गाजियाबाद में रहते हैं और कभी इमरजेंसी में यूपी पुलिस का नंबर 112 ड़ायल करते हैं तो आपका फोन लखनऊ में नहीं बल्कि दिल्ली में लगेगा, पिछले साल करीब 2500 ऐसी कॉल आईं, जिससे पुलिस खुद परेशान है, तो सवाल ये है कि क्या किसी बदलाव की जरूरत है, क्योंकि मुख्तार, अतीक के करीबियों पर बुलडोजर चल रहा है, माफिया मिट्टी में मिल रहे हैं वो ठीक है, लेकिन पुलिस अगर अपराधियों को पकड़ नहीं पा रही है, हाथ खुले होने के बावजूद भी अगर प्रयागराज केस के 6 आरोपी 8 दिनों तक पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं, पुलिस के पास दिखाने को मात्र एक एनकाउंटर भर है, डीजीपी के नंबर से ऐसे दारोगा को आदेश दे दिया जा रहा है तो फिर कहीं न कहीं सुधार की जरूरत तो जरूर है, क्या आपके जिले की पुलिस आपकी शिकायतों का निपटारा समय पर कर रही है, हमें कमेंट कर बताएं ताकि ये पता चल सके कि क्या पुलिस बुलडोजर का मॉडल दिखाकर कहीं बाकी के कामों में ढिलाई तो नहीं बरत रही.
ब्यूरो रिपोर्ट ग्लोबल भारत टीवी

https://youtu.be/9BlF6ZPw4Gc

About Author

Global Bharat

Global's commitment to journalistic integrity, thorough research, and clear communication make him a valuable contributor to the field of environmental journalism. Through his work, he strives to educate and inspire readers to take action and work towards a sustainable future.

Recent News