उत्तराखंड के 9 जिलों में रेड अलर्ट, 100 से ज्यादा रास्ते बंद, लोगों को किया गया सतर्क

Global Bharat 07 Jul 2024 2 Mins 936 Views
उत्तराखंड के 9 जिलों में रेड अलर्ट, 100 से ज्यादा रास्ते बंद, लोगों को किया गया सतर्क

उत्तराखंड में भारी बारिश को देखते हुए 9  जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है. कई जगहों पर पहाड़ दरकने की भी खबर मिल रही है और मलबा सड़क पर आ जाने से कई रास्ते बंद हो गए हैं. मौसम विज्ञान केंद्र उत्तराखंड ने जानकारी दी है कि आज 7 जुलाई से लेकर 9 जुलाई तक राज्य में  भीषण बारिश देखने को मिल सकती है. विभाग ने लोगों को सुरक्षित स्थानों पर चले जाने की सलाह दी है.

यह भी पढ़ें- भक्तों के लिए बुरी खबर, चारधाम यात्रा पर लगी रोक, जानें वजह और कब होगी दोबारा शुरू?

मौसम विज्ञान केंद्र उत्तराखंड ने बताया है कि चमोली, रुद्रप्रयाग, पौड़ी, गढ़वाल, पिथौरागढ़, बागेश्वर, चंपावत, अल्मोड़ा, नैनीताल, और ऊधम सिंह नगर में भारी बारिश होगी. इन जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है. जबकि देहरादून, टिहरी और उत्तरकाशी में भारी से मध्यम बारिश होगी और इसके लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है.

भारी बारिश की वजह से पिधौरागढ़ में भारत-नेपाल को बांटने वाली काली नदी चेतावनी लाइन से ऊपर बह रही है. साथ ही गंगा और राज्य की अन्य नदियों को लेकर भी अलर्ट जारी किया गया है. नदियों के बढ़ते जल स्तर को लेकर प्रशासन ने लोगों को सतर्क करना शुरू कर दिया है और लोगों से कहा जा रहा है कि वे समय रहते सुरक्षित स्थानों पर चले जाएं.

बता दें कि उत्तराखंड में भारी बारिश की वजह से पहाड़ टूटकर सड़कों पर गिर रहे हैं. इस वजह से कई रास्ते भी बंद होने की खबर मिल रही है. वहीं भूस्खलन की वजह से 100 से ज्यादा सड़कें बंद होने की खबर मिल रही है. लोगों को मार्ग खुलने के लिए घंटों इंतजार करना पड़ रहा है. साथ ही गंगा, अलकनंदा, मंदाकिनी नदी भी उफान पर है. वहीं उच्च हिमालयी क्षेत्रों में पर्यटकों के घूमने पर रोक लगाया गया है और चारधाम यात्रियों को ऋषिकेश से ऊपर जाने की इजाजत नहीं दी गई है.

किसी भी स्थिति से निपटने के लिए सभी जिलों के डीएम को अलर्ट पर रखा गया है. राहत व बचाव कार्य से जुड़े लोगों को निर्देश दिया गया है कि वे अपने मोबाइल को बंद न करे. मौजूदा हालात को देखते हुए राज्य आपदा प्रबंधन (SDRF) तीर्थ यात्री सहित स्थानीय लोगों के लिए चेतावनी जारी की है और नदी किनारे रहने वाले लोगों को वहां से हटाया जा रहा है. बता दें कि मौसम विभाग ने चेतावनी जारी की है कि राज्य में 7-8 को भारी बारिश हो सकती है और यह सिलसिला 10 जुलाई तक भी जारी रह सकता है.

वहीं वेदर रिपोर्ट में बताया गया है कि देहरादून, हरिद्वार, टिहरी और उत्तरकाशी में भारी बारिश हो सकती है. साथ एक अन्य विभाग के द्वारा भी 8 और 9 जुलाई को आंधी, बारिश और बिजली कड़कने की संभावना जताई गई है. इस बीच राज्य सरकार ने भी लोगों के लिए चेतावनी जारी की है.

राज्य सरकार की तरफ कहा गया है कि भारी बारिश के बीच सुरक्षित रहें और जितना हो सके घर में ही रहें. साथ ही भारी बारिश से हो सकने वाली आपदा से भी खुद को बचाएं. राज्य सरकार यह भी कोशिश कर रही है कि जान माल के नुकसान को कम किया जाए. वहीं उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सभी जिलों के मजिस्ट्रेट को अलर्ट पर रहने का आदेश दिया है. 

Recent News